Skip to main content

Posts

Featured

Kshama Se Kshamata क्षमा से क्षमता By Avinash Ranjan Gupta

क्षमा से क्षमता अधिकतर लोग आज के युग में अपनी गलती को स्वीकार करने में अपनी बेइज्जती समझते हैं। इतना ही नहीं उन्होंने जो कृत्य कर दिया है उसे किसी भी कीमत पर सही साबित करने के लिए एड़ी-चोटी का ज़ोर लगा देते हैं। इतनी मशक्कत करने पर उन्हें क्या-क्या मिलता है, पहला सामने वाले व्यक्ति से मन-मुटाव, बेकार की नोंक-झोंक, उग्र स्वर के प्रयोग से रक्तचाप में वृद्धि तथा गलत का साथ देने का गलत काम। इसके विपरीत जब आपको लगता है कि आपसे सच में भूल हो गई है तो, “मुझे क्षमा कीजिएगा। या I am sorry” का एक वाक्य इन सब समस्याओं को आने ही नहीं देता है। क्षमा माँगना वास्तव में आपकी क्षमता का प्रदर्शन करता है। आपने अपने अहं (Ego) से विजय प्राप्त की है, आपने सही का साथ दिया है, आपने अपने में सुधार किया है और आपने अपने में इंसानियत को बरकरार रखा है। सच तो यह है कि आत्मा हमेशा से जानती है कि सही क्या है असली चुनौती तो मन को समझाने में आती है।

Latest posts

CCTV Kaimre har Taraf Hain सीसीटीवी कैमरे हर तरफ़ हैं By Avinash Ranjan Gupta

कर्मों का प्रभाव Karmon ka prabhav By Avinash Ranjan Gupta

हमेशा प्रेरित कैसे रहे? Hamesha PreritKaise Rahe By Avinash Ranjan Gupta

ज़्यादा माँगिए Zyada Mangiye By Avinash Ranjan Gupta

ध्यान से सुनो Dhyaan Se Suno By Avinash Ranjan Gupta

पूछ लीजिए Pooch Lijie By Avinash Ranjan Gupta

रीढ़ सीधी रखिए Reedh Seedhee Rakhie By Avinash Ranjan Gupta

सारे काम ज़रूरी हैं Saare Kaam Zaroori Hain By Avinash Ranjan Gupta

नदी और कुआँ Nadi Aur Kuan By Avinash Rankan Gupta

Atal Bihari Vajpeyee Par Ek Lekh By Avinash Ranjan Gupta