Mera Chhota-sa Niji Pustakalay Paath Ka Shabdarth By Avinash Ranjan Gupta

मेरा छोटा-सा निजी पुस्तकालय
                                                                                                                                                            धर्मवीर भारती

शब्दार्थ
1.       बहुचर्चित अत्यधिक प्रसिद्ध
2.       संपादक Editor
3.       मानक Standard
4.       बहुमुखी प्रतिभा Multi talented
5.       रिपोर्ताज  - Report
6.       समृद्ध मजबूत
7.       ज़बररदस्त  - ज़ोर का
8.       नब्ज़ नाड़ी
9.       धड़कन Heartbeat
10.   महसूस आभास
11.   ज़रा थोड़ा
12.   जरा बुढ़ापा
13.   कण Particle
14.   सर्जन Surgeon
15.   विशेषज्ञों Specialist
16.   बहरहाल हालाँकि
17.   ज़िद हठ
18.   सुपारी Betel nut
19.   फ़र्श Floor
20.   सुधारवादी Reformation
21.   आदर्श Ideal
22.   आह्वान बुलावा
23.   आर्थिक Economic
24.   रेखाचित्र एक साहित्यिक विधा
25.   उपनिषद वेदांत
26.   अदम्य जिसे दबाया न जा सके
27.   रोमांचक Adventurous
28.   तलाश खीज
29.   रूढ़ियाँ परंपराएँ
30.   संगति Company
31.   दर्जे Class
32.   कुल्हड़ मिट्टी का प्याला
33.   कुंजों बगीचें
34.   ह्वेल Whale
35.   शार्क  - Shark
36.   युनिवर्सिटी विश्वविद्यालय
37.   संपादन Edition
38.   हाईकोर्ट उच्च न्यायालय
39.   निजी Private
40.   दिवंगत मृत्यु को प्राप्त
41.   अनुवाद Translation
42.   काश Wish
43.   इश्यू  -Issue
44.   देहावसान - मृत्यु को प्राप्त
45.   सहपाठियों Classmates
46.   विपन्न बुरी हालत
47.   सिनेमाघर Theatre
48.   विक्रेता बेचने वाला
49.   कमीशन Commission
कृतियों रचनाएँ 

Comments

Popular Posts